सर्दियों में बच्चों की देखभाल कैसे करें? – Baby Care Tips in Winter

627
सर्दियों में बच्चों की देखभाल कैसे करें? - Baby Care Tips in Winter

सर्दियों ने दस्तक दे दी है और सर्दियों के मौसम में छोटे बच्चों की देखभाल करना आसान बात नहीं होती. इस वक़्त बच्चे और बूढ़ों की देखभाल के लिए अधिक सावधानी बरतनी पड़ती है. आज हम बता रहें हैं कि सर्दियों में बच्चों की देखभाल कैसे करें.

सर्दियों में छोटे बच्चों का ध्यान कैसे रखें?

  1. वैसे तो छोटे बच्चों को रोजाना मालिश की जरूरत होती है लेकिन, सर्दियों के मौसम में बच्चों को ठंड से बचाकर रखने के लिए उनकी रोज मालिश करना और भी ज्यादा जरूरी हो जाता है. सर्दियों में ब्लड का सर्कुलेशन कम हो जाता है अतः, बच्चे के पूरे शरीर में ब्लड सर्कुलेशन अच्छे से हो इसके लिए जरूरी है कि बच्चे की दिन में दो बार मालिश की जाए. लेकिन ध्यान रखें कि मालिश करते समय बच्चे को कहीं से भी हवा ना लगने पाए.
  2. बच्चों की मालिश के लिए जैतून या बादाम का तेल सबसे अच्छा रहता है. सर्दियों में डाबर लाल तेल से बच्चे की मालिश करना भी लाभदायक होता है. इससे बच्चे की हड्डियां तथा मांसपेशियां मजबूत बनती हैं. शारीरिक विकास के लिए दिन में दो बार बच्चे की मालिश की जानी चाहिए, सुबह बच्चे को नहलाने के बाद और रात को सोने से पहले.
  3. मालिश करने से बच्चे के शरीर में गर्माहट आती है और साथ ही बच्चे को नींद भी बहुत अच्छी आती है.
  4. सर्दियों में बच्चों को एक साथ कई सारे गर्म कपड़े पहनाने से बेहतर है कि उन्हें कपड़े लेयर्स में पहनाएं. लेयर्स में तीन-चार पतले कपड़े उनके शरीर को ज्यादा गर्म रखेंगे.
  5. बच्चों के शरीर में सिर, कान, छाती व पैरों के जरिये ही ठंड घुसती है इसलिए इन हिस्सों को हमेंशा ढककर रखें.
  6. यदि आप चाहते हैं कि आपका बच्चा बार-बार सर्दी-जुखाम से परेशान ना रहे तो सर्दियों में बच्चों को अन्दर से कॉटन के इनरवेयर जरूर पहनाकर रखें. दो साल से कम उम्र के बच्चों को टोपी और ऊनी जुराब हर वक़्त पहनाकर रखें. घुटने के बल चलने वाले बच्चों को हाथों में दस्ताने की बजाय मिटंस पहनाना बेहतर रहता है क्योंकि इनसे बच्चे की उंगलियों को अधिक गर्माहट मिलती है.
  7. सर्दियों में गुड़ का सेवन करना फायदेमंद होता है इसलिए दो साल से ज्यादा उम्र के बच्चों को रात के समय गुड़ जरूर दें. दिन के समय शहद चटाना भी फायदेमंद है.
  8. सर्दियों में सुबह की धूप से मिलने वाला विटामिन-D  सभी के लिए बहुत ही लाभदायक होता है. इसलिए रोज सुबह कम से आधा घंटे तक बच्चे को धूप में जरूर रखें.
  9. रात को सोने से पहले हल्दी वाला दूध पिलाने से बच्चे की इम्यूनिटी बढ़ती है.
  10. बच्चे की इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए साइट्रस फ्रूट्स, लहसुन, अदरक को भोजन में शामिल करें और बड़ों के साथ-साथ बच्चों को भी हरी सब्जियां खिलाएं.
  11. सर्दियों में बच्चों को ड्राई फ्रूट्स जरूर दें. इन्हें आप हलवे में डालकर या पाउडर बनाकर दूध के साथ मिलाकर बच्चे को दे सकते हैं. बच्चे को इसका स्वाद भी अच्छा लगेगा और ये उसकी सेहत के लिए भी फायदेमंद होता है. 7-8 माह के बच्चे को रोज आधा बादाम और आधा काजू पीसकर दे सकते हैं.
  12. सर्दियों में बच्चे को ठंडा या सादा पानी बिल्कुल भी ना पिलाएं. इस मौसम में बच्चों को पीने के लिए गुनगुना पानी दें, इससे बच्चे को खांसी या गले में खरास नहीं होगी. आप गर्म-गर्म सूप भी बच्चे को पिला सकते हैं, इससे बच्चे के गले में जमा हुआ म्यूकस या बलगम आसानी से निकल जाता है.
  13. सर्दी के मौसम में छोटे बच्चों को रोज नहलाना जरूरी नहीं है, आप उन्हें एक दिन छोड़कर नहलाएं. बच्चों को बहुत अधिक गर्म पानी से ना नहलाएं बल्कि गुनगुने पानी से नहलाएं.
  14. सर्द मौसम में चलने वाली ठंडी और शुष्क हवाएं बच्चों की कोमल त्वचा से नमी को छीन लेती हैं. इसलिए बच्चे की त्वचा को मॉइश्चराइज करने के लिए दिन में कम से कम दो बार हल्के हाथों से मॉइश्चराइजर जरूर लगाएं, इससे बच्चे की त्वचा को नमी मिलती है और रूखेपन से छुटकारा मिलता है.
  15. यदि बाहर बहुत अधिक ठंड है तो बच्चों को बाहर खेलने की बजाय इंडोर गेम यानि घर के अंदर ही खेलने के लिए प्रेरित करें लेकिन दिन के समय धूप में बच्चों को जरूर खेलने दीजिए.

अगर आप ऊपर बताई गई बातों का पालन करते हैं तो ये सर्दियां आपको परेशान नहीं करेंगी. अगर आप इस ब्लॉग में दी गई जानकारी से संतुष्ट हैं तो अन्य पेरेंट्स के साथ जरूर शेयर करें.

Best Baby Massage Oils