डिलीवरी के बाद वजन बढ़ने के क्या कारण हैं?

428
डिलीवरी के बाद वजन बढ़ने के क्या कारण हैं?

प्रेगनेंसी की शुरुआत होते ही महिला के शरीर में कई सारे बदलाव होने शुरू हो जाते हैं. हर गर्भवती महिला को शारीरिक, मानसिक और हार्मोनल बदलावों से गुज़रना ही पड़ता है. जिनकी वजह से डिलीवरी के बाद भी कुछ महिलाओं का वजन बढ़ने लगता है. आज हम जानेंगे कि आखिर डिलीवरी के बाद वजन बढ़ने के क्या कारण हैं?

डिलीवरी के बाद महिलाओं का वजन क्यों बढ़ जाता है?

डिलीवरी होने के बाद कुछ महिलाओं का वजन सामान्य रहता है लेकिन कुछ महिलाओं का वजन पहले की अपेक्षा बढ़ जाता है. अधिकतर महिलाएं ये समझ ही नहीं पाती हैं कि डिलीवरी के बाद वजन बढ़ने के क्या कारण हैं? नीचे हमने कुछ कारण बताए हैं इन्हें ध्यान से पढ़ें.

1हार्मोन्स में बदलाव होना

प्रेगनेंसी के दौरान प्रेगनेंट महिलाओं के हार्मोन्स में बहुत तेजी से बदलाव होते हैं जिस कारण, महिला का वजन निरंतर बढ़ता ही जाता है और ये वजन डिलीवरी हो जाने के बाद और भी ज्यादा महसूस होता है.

2हाई कैलोरी फ़ूड का अधिक सेवन करना

प्रेगनेंसी के दौरान और डिलीवरी हो जाने के बाद भी महिला को दूध, घी व ड्राई फ्रूट्स जैसे खाद्य पदार्थ अधिक मात्रा में खिलाए जाते हैं. इनमें हाई कैलोरी पाई जाती है. अतः हाई कैलोरी फ़ूड का अत्यधिक सेवन करना और शारीरिक क्रियाएं कम करना, इससे महिला का वजन बढ़ना तो तय ही है.

3बच्चे को ठीक से स्तनपान न कराना

डिलीवरी के बाद बच्चे को ठीक तरह से स्तनपान न कराने से भी महिला के वजन में वृद्धि होती है.

4शारीरिक गतिविधि न करना

डिलीवरी के बाद कुछ महिलाएं अपने शरीर को सिर्फ़ और सिर्फ़ आराम देना ज़रूरी समझती हैं. वो किसी भी तरह की एक्टिविटी नहीं करती हैं और ना ही टहलती हैं. ऐसे में बैठे-बैठे रहने से कब उनका वजन बढ़ जाता है उन्हें पता भी नहीं चलता.

5थायराइड असंतुलन

जिन महिलाओं को पहले से ही थायराइड की समस्या है, डिलीवरी के बाद उनका थायराइड असंतुलित हो सकता है और हाइपोथायराइड की वजह से उनके वजन पर भी प्रभाव पड़ता है. ऐसी महिलाओं का डिलीवरी के बाद मोटापा बढ़ने लगता है.

6मानसिक तनाव

कुछ महिलाएं डिलीवरी के बाद डिप्रेशन में चली जाती हैं अर्थात् एक तरह का मानसिक तनाव उन्हें घेर लेता है और इसके बाद उनका वजन बढ़ने लगता है.

7एक्सरसाइज़ न करना

ज्यादातर महिलाएं डिलीवरी के बाद अपने बच्चे की देखभाल में इतनी ज्यादा व्यस्त हो जाती हैं कि खुद के लिए भी वक़्त नहीं निकाल पाती हैं. एक्सरसाइज़ न करने की वजह से उनका वजन बढ़ने लगता है.

8बार-बार स्नैक्स या पैक्ड फ़ूड खाना

ब्रेस्ट फ़ीडिंग कराने वाली माताओं को बार-बार भूख लगना आम बात है लेकिन भूख मिटाने के लिए बार-बार स्नैक्स या पैक्ड फ़ूड खाने से आप बहुत जल्दी वेट गेन कर लेती हैं और आपका पेट भी आगे निकल जाता है. इसलिए इन्हें खाने की बजाय आपको हेल्दी डाइट लेने पर ध्यान देना चाहिए.

9अधिक नींद लेना

यह ऐसा दौर होता है जब बच्चे को संभालते-संभालते महिलाएं इतना थक जाती हैं कि उन्हें आराम की ज़रुरत होती है. लेकिन कुछ महिलाएं खुद को आराम देने के लिए कुछ ज्यादा ही सो जाती हैं. अत्यधिक सोने से भी महिलाओं का वजन बढ़ता है.

10पेट पर बैल्ट या कपड़ा न बांधकर रखना

डिलीवरी होने के बाद जो महिलाएं अपने पेट पर कपड़ा या बैल्ट बांधकर नहीं रखती हैं उनका पेट जल्दी बाहर निकल जाता है या लटकने लगता है. इसलिए नॉर्मल डिलीवरी होने के बाद कम से कम एक माह तक आपको पेट में सूती कपड़ा लपेटकर रखना चाहिए.