डिलीवरी के बाद कितने दिन तक गर्म पानी पीना चाहिए?

1306
डिलीवरी के बाद कितने दिन तक गर्म पानी पीना चाहिए?

यदि आपकी अभी-अभी डिलीवरी हुई है और आपको ये समझ में नहीं आ रहा है कि डिलीवरी के बाद आपको कितना पानी पीना चाहिए, आपको ठंडा पानी पीना चाहिए या गर्म पानी पीना चाहिए. यदि गर्म पानी पी रहे हैं तो कितना पीना चाहिए, डिलीवरी के बाद गर्म पानी पीना आपके लिए इतना ज़रूरी क्यों है. इन सभी सवालों के जवाब हम आपके लिए आज इस आर्टिकल में लेकर आये हैं. डिलीवरी के बाद कितने दिन तक गर्म पानी पीना चाहिए, इस सवाल का जवाब भी आपको इस आर्टिकल में मिलेगा. इसलिए ध्यान से पूरा आर्टिकल ज़रूर पढ़िएगा.

सबसे पहले तो आपको यह जानना बहुत ज़रूरी है कि आपके लिए प्रेगनेंसी के दौरान पानी पीना जितना ज़रूरी है उतना ही ज्यादा आपके लिए ज़रूरी है कि आप डिलीवरी हो जाने के बाद भी खूब सारा पानी पीना न छोड़ें. डिलीवरी के बाद भी शरीर को हाइड्रेट रखने और ब्रेस्ट मिल्क की सप्लाई बढ़ाने के लिए मां बनने वाली महिला को ज्यादा से ज्यादा पानी पीने की सलाह दी जाती है.

अक्सर ये देखने को मिलता है कि प्रेगनेंसी के समय तो प्रेगनेंट महिलाएं पानी पीने पर खूब ध्यान देती हैं लेकिन, जैसे ही उनकी डिलीवरी हो जाती है वें पानी पीने को लेकर लापरवाही बरतने लगती हैं और इस लापरवाही का खामियाज़ा बाद में उन्हें भुगतना पड़ता है.

डिलीवरी के बाद कैसा पानी पीना चाहिए?

जो महिलाएं पहली बार मां बन रही हैं वे इस बात से या तो अंजान रहती हैं या फिर दुविधा में रहती हैं कि डिलीवरी के बाद उन्हें कैसा पानी पीना चाहिए?

डिलीवरी चाहे नॉर्मल हो या सिज़ेरियन, दोनों ही स्थिति में आपको डिलीवरी के बाद गर्म पानी ही पीना चाहिए. प्रेगनेंसी और डिलीवरी के बाद महिला को गर्म पानी पीने के लिए देना उसकी व नवजात शिशु की सेहत के लिए ठीक रहता है इसलिए प्रसव होने के बाद पहले दिन से ही महिला को गर्म पानी पीने की सलाह दी जाती है.

यदि आपकी डिलीवरी गर्मियों के मौसम में होती है तो आप गर्म पानी को थोड़ा गुनगुना होने के बाद पिएं लेकिन ठंडा पानी बिल्कुल भी न पिएं. पानी को गर्म करने से उसमें मौजूद बैक्टीरिया ख़तम हो जाते हैं. जिससे प्रसूता को किसी भी इन्फैक्शन से बचाने में मदद मिलती है.

डिलीवरी के बाद कितना पानी पीना चाहिए

डिलीवरी होने के बाद महिला को प्रत्येक दिन कम से कम 10 से 12 गिलास गुनगना पानी पीने की सलाह दी जाती है. डिलीवरी के बाद महिला के शरीर में पानी की कमी न हो इसके लिए 12 गिलास पानी तो रोज़ाना पीना ही चाहिए. पर्याप्त पानी पीने से नवजात शिशु के लिए मां के शरीर में खूब दूध भी बनता है जिससे जन्म के बाद शिशु भूखा नहीं रहता है.

ये भी ज़रूर पढ़ें:

डिलीवरी के बाद गर्म पानी पीने के फायदे

डिलीवरी के बाद गर्म पानी पीना महिला की सेहत के लिए बहुत फायदेमंद रहता है. इसी वजह से प्रसव के उपरान्त महिला को ठंडा पानी पीने की बजाय गर्म पानी पीने और गर्म चीज़ें खाने की सलाह दी जाती है और ठंडी चीज़ों से दूर रहने की सलाह दी जाती है.

प्रसव के बाद ठंडी चीजों से परहेज करना ही आपकी सेहत के लिए फायदेमंद रहता है अन्यथा आपकी रिकवरी में देरी हो सकती है. आइए अब जानते हैं कि डिलीवरी के बाद गर्म पानी पीने के फायदे क्या-क्या हैं.

कब्ज में आराम दे

डिलीवरी के तुरंत बाद महिलाओं में कब्ज की समस्या होना आम बात है. नॉर्मल डिलीवरी या सिज़ेरियन डिलीवरी के बाद महिला का पेट साफ़ होने में थोड़ा वक़्त लगता है. इस परेशानी से बचाने में गर्म पानी सहायक सिद्ध होता है. गर्म पानी आपके द्वारा ग्रहण किये गये भोजन को जल्दी पचाकर पाचन तंत्र को मजबूत बनाता है जिससे मल त्यागने की प्रक्रिया आसान हो जाती है और कब्ज की समस्या में राहत मिलती है.

इम्यूनिटी मजबूत होती है

डिलीवरी के तुरंत बाद महिलाओं के शरीर में बहुत कमजोरी आ जाती है और उनकी इम्यूनिटी भी कमज़ोर होती है जिस वजह से महिलाएं बीमार भी हो सकती हैं. अतः इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने के लिए गर्म पानी का सेवन करना फायदेमंद रहता है. डिलीवरी के बाद महिला को स्नान भी गर्म पानी से ही करना चाहिए.

रक्त संचार सुचारु रूप से होता है

गर्म पानी का सेवन करने से आपके शरीर में ब्लड सर्कुलेशन यानि रक्त का संचार अच्छी तरह से होता है. डिलीवरी के बाद गर्म पानी पीने से शरीर की रक्त वाहिकाएं फैलती हैं जिससे रक्त संचार बेहतर होता है. गर्म पानी के सेवन से शरीर से पसीना भी बाहर निकलता है.

दर्द में राहत दे

डिलीवरी होने के कुछ दिनों बाद तक महिला को शरीर ने दर्द कि शिकायत रहती है जिसे दूर करने में गर्म पानी सहायता कर सकता है. दर्द को कम करने के लिए गर्म पानी से सिकाई करने की भी सलाह दी जाती है. गर्म पानी पीने से डिलीवरी के बाद की रिकवरी भी जल्दी और आसान होती है.

गर्भाशय पूर्व अवस्था में जल्दी वापस आता है

डिलीवरी के बाद ठंडा पानी पीने से आपके गर्भाशय को पुनः अपनी पूर्व अवस्था में जल्दी वापस आने में दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है लेकिन इसके विपरीत यदि आप गर्म पानी का सेवन करती हैं तो गर्भाशय अपने नॉर्मल साइज़ में जल्दी वापस आ जाता है. इसीलिए बड़े-बुजुर्ग भी प्रसूता को गर्म पानी पीने की ही सलाह देते हैं.

वजन कम करने में सहायक

डिलीवरी के बाद महिलाओं के सामने सबसे पहली चुनौती होती है अपना वजन कम करने की. इस चुनौती का सामना करने में गर्म पानी का सेवन करना नई मांओं के लिए बहुत मददगार साबित हो सकता है. गर्म पानी पीने से मेटाबॉलिज्म बेहतर होता है और आपका वजन भी कंट्रोल में रहता है. डिलीवरी के बाद ठंडा पानी पीने से आपके शरीर का फैट बढ़ सकता है. इसलिए यदि आप भी डिलीवरी के बाद अपने बढ़े हुए वजन को कम करना चाहती हैं तो गर्म पानी का ही सेवन करें.

डिलीवरी के बाद ठंडा पानी कब पी सकते हैं?

डिलीवरी के बाद जब मां का शरीर पूरी तरह से रिकवर हो जाए, तभी वें ठंडा पानी पी सकती हैं. डिलीवरी के लगभग तीन से चार महीने के बाद आप ठंडा पानी पी सकती हैं. यदि आपकी डिलीवरी गर्मी के मौसम में हुई है और आपका शरीर बहुत हीट हो रहा है, तो जाहिर सी बात है कि आपका मन ठंडा पानी पीने का करेगा लेकिन प्रसव के बाद ठंडी चीज़ों के सेवन से आपकी रिकवरी में देरी हो सकती है. इसलिए ऐसी स्थिति में कभी-कबार ही आप नॉर्मल या सादा पानी पी सकती हैं लेकिन फ्रिज़ के ठंडे पानी को बिल्कुल ही अवॉयड करें. साथ ही नॉर्मल पानी की मात्रा को भी आधे गिलास तक ही सीमित रखें.