यूरिक एसिड के लक्षण और कारण क्या है? – 10 symptoms and causes of uric acid?

144
यूरिक एसिड के लक्षण और कारण क्या है?

आज के इस आर्टिकल में हम बात कर रहे हैं कि यूरिक एसिड क्या है? और यूरिक एसिड के लक्षण और कारण क्या है? आजकल यूरिक एसिड बढ़ने की समस्या लगभग हर व्यक्ति को होना आम बात हो गई है.

यदि यह आपके शरीर में सामान्य स्तर पर है तो कोई दिक्कत नहीं है लेकिन, जब इसका लेवल आवश्यकता से कई अधिक हो जाए तो यह आपके शरीर में कई तरह की अन्य बीमारियां उत्पन्न कर सकता है.

यूरिक एसिड क्या है? – Uric Acid Kya Hai?

यूरिक एसिड हमारे शरीर का वेस्ट पदार्थ होता है जो कि हमारे शरीर के सेल्स (cells) और हमारे आहार से बनता है. यह प्रोटीनयुक्त खाद्य पदार्थों में पाए जाने वाले प्यूरीन नामक तत्व की अधिकता से बनता है.

प्यूरीन पदार्थ जब छोटे-छोटे टुकड़ों में टूट जाता है तो यह यूरिक एसिड बनाता है. यह यूरिक एसिड ब्लड में घुल जाता है. जब ब्लड फ़िल्टर होने के लिए किडनी में जाता है तो किडनी उस ब्लड में से यूरिक एसिड को फ़िल्टर करके आवश्यक वेस्ट को रख लेती है और अतिरिक्त वेस्ट को यूरिन के द्वारा शरीर से बाहर फेंक देती है.

जब हमारे शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा अधिक हो जाती है और यह हमारे शरीर में ही रुकने लगे और यूरीन के ज़रिए शरीर से बाहर न निकले तो यह यूरिक एसिड यूरिक क्रिस्टल के रूप में परिवर्तित होकर शरीर के जोड़ों में जमा होने लगता है या फिर किडनी में जमा हो जाता है जिससे किडनी की बीमारी या किडनी में स्टोन जमा होने लगता है और किडनी अपना काम सही से नहीं कर पाती है.

किडनी का काम होता है शरीर से अपशिष्ट पदार्थों को बाहर निकालना लेकिन, जब किडनी के इस काम को करने की क्षमता कम होने लगती है और किडनी यूरिक एसिड को फ़िल्टर नहीं कर पाती है तो खून में यूरिक एसिड का लेवल बढ़ने लगता है और शरीर में हड्डियों के बीच यूरिक एसिड जमा होने लगता है और दर्द पैदा करता है.

यूरिक एसिड हमारे शरीर के लिए आवश्यक है क्योंकि यह एंटी-ऑक्सीडेंट की तरह कार्य करता है और हमारी इम्यूनिटी को बढ़ाता है. यूरिक एसिड हमारे शरीर में पहले से ही मौजूद होता है और यूरिन के ज़रिए शरीर से बाहर निकलता रहता है.

लेकिन यदि इसकी मात्रा हमारे शरीर में अपने सामान्य स्तर से कम या ज्यादा हो जाए तो यह हमारे शरीर को नुक्सान पहुंचाता है.

यूरिक एसिड के अत्यधिक बढ़ जाने से गाउट (Gout), गठिया और आर्थोराइटिस नामक बीमारी होने का भी ख़तरा बढ़ जाता है. महिलाओं की अपेक्षा पुरुषों में गाउट की समस्या अधिक पाई जाती है. महिलाओं में पैदा होने वाला एस्ट्रोजन हार्मोन गाउट को पैदा नहीं होने देता है.

इसलिए यदि महिलाओं में यह समस्या पैदा हो भी जाए तो यह उनके मासिक धर्म ख़त्म होने के बाद ही अधिक देखने को मिलती है यानि जब महिलाएं मोनोपोज़ की स्थिति में पहुंच जाती हैं तब उनमें यह समस्या उत्पन्न होती है. किशोर लड़कियों में यह समस्या नहीं होती है.

यूरिक एसिड बढ़ने के कारण क्या हैं?

यूरिक एसिड के लक्षण क्या हैं? – Uric Acid Ke Lakshan Kya Hain

जिन लोगों को यूरिक एसिड के बारे में जानकारी नहीं होती है उन्हें अपने शरीर में यूरिक एसिड के बढ़ने का पता नहीं चल पाता है. लेकिन कुछ लक्षण ऐसे होते हैं जिन्हें पहचानकर आप यह समझ सकते हैं कि आपके शरीर में भी यूरिक एसिड बढ़ रहा है.

यूरिक एसिड बढ़ने पर जोड़ों में दर्द 24 से 36 घंटे के अंदर-अंदर बहुत ज्यादा बढ़ जाता है. जब यह दर्द शुरू होता है तो दर्द 7 से 10 दिन तक बहुत अधिक रहता है. इसे एक्यूट गाउटी अटैक (Acute Gouty Attack) कहते हैं.

  1. जोड़ों जैसे- घुटनों, अंगूठे, एड़ियों, कोहनी, कलाई, कमर, गर्दन के जोड़ों में दर्द या गांठ की शिकायत और सूजन होना. सामान्यतः जोड़ों का यह दर्द पैर के अंगूठे से शुरू होकर धीरे-धीरे घुटने और फिर अन्य जोड़ों तक पहुंचता है.
  2. जोड़ लाल रंग का हो जाना या उसमें रेडनेस होना और उसमें गर्मी का एहसास होना
  3. हाथ या पैरों की उंगलियों में चुभन वाला दर्द होना और सूजन आ जाना
  4. बार-बार थकान लगना
  5. छोटे जोड़ों से दर्द शुरू होकर बड़े जोड़ों तक पहुंचता है
  6. जोड़ों में अकड़न और जकड़न होना
  7. सुबह उठकर ज्यादा दर्द होना और शाम होते-होते दर्द कम हो जाना
  8. उठने-बैठने में परेशानी होना

ये भी ज़रूर पढ़ें:

यूरिक एसिड कितना होना चाहिए? – Normal Range Of Uric Acid

महिलाओं में यूरिक एसिड का नॉर्मल रेंज 2.4 – 6.0 mg/dl

पुरुषों में यूरिक एसिड का नॉर्मल रेंज – 3.4 – 7.0 mg/dl

यूरिक एसिड बढ़ने के कारण क्या हैं? – Uric Acid Badhne Ke Karan Kya Hain

यदि आपके शरीर में यूरिक एसिड अधिक बन रहा है और किडनी उसे फ़िल्टर नहीं कर पा रही है तो खून में यूरिक एसिड का लेवल बढ़ने लगता है.

धीरे-धीर यह हड्डियों में जमा होने लगता है और आपको यूरिक एसिड के लक्षण महसूस होने लगते हैं.

आइए अब जानते हैं कि यूरिक एसिड बढ़ने के कारण क्या हैं.

  1. जो लोग डायबिटीज़, मोटापा, ब्लड प्रेशर, कैंसर और किडनी डिसआर्डर जैसी बीमारी से पीड़ित हैं और इन बीमारियों से सम्बंधित दवाओं का सेवन करते हैं उनका यूरिक एसिड बढ़ने की संभावना अधिक रहती है.
  2. यदि आपकी किडनी में खराबी है तो भी यूरिक एसिड पूरी तरह से शरीर से बाहर नहीं निकल पाता और शरीर में ही जमने लगता है.
  3. यदि आपकी कोई बड़ी सर्जरी हुई है और आपको कोई पेन किलर लेनी पड़ती है तो भी आपका यूरिक एसिड बढ़ सकता है.
  4. हाई प्रोटीनयुक्त आहार में मौजूद प्यूरीन के अत्यधिक सेवन करने से जैसे- पालक, मशरूम, गोभी, टमाटर, राजमा, सोयाबीन दाल, पनीर, घी, अंडा, मांस, रेड मीट, सी फ़ूड और डेयरी प्रोडक्ट्स का अत्यधिक सेवन करने से यूरिक एसिड बढ़ता है. खाने के रूप में लिया जाने वाला प्यूरीन प्रोटीन शरीर में यूरिक एसिड के लेवल को और अधिक बढ़ा देता है.
  5. अपनी डाइट में कार्बोहाइड्रेट युक्त भोजन अधिक मात्रा में लेने से जैसे- आलू, चावल आदि.
  6. आयरन युक्त भोजन की अधिकता से
  7. कोल्डड्रिंक, शराब और शुगर के अत्यधिक सेवन से
  8. यदि आपको एसिडिटी अधिक रहती है तो यूरिक एसिड अधिक बढ़ सकता है.
  9. यदि आपको खाने-पीने से एलर्जी है तो
  10. शरीर में पानी की अत्यधिक कमी होने से
  11. अधिक मानसिक तनाव लेने से भी यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ती है.
  12. व्यायाम न करना, फिज़िकली एक्टिव न रहना ये कारण भी आपके यूरिक एसिड को बढ़ा सकते हैं.
  13. जेनेटिक कारण से भी यूरिक एसिड बढ़ता है.
  14. ज्यादा व्रत, उपवास रखने से या ज्यादा डाइटिंग करने से यूरिक एसिड बढ़ सकता है.

यूरिक एसिड टेस्ट – Uric Acid Test

यूरिक एसिड टेस्ट दो प्रकार का होता है. एक ब्लड सैम्पल से और दूसरा यूरिन सैम्पल से

Uric Acid, Serum Test की कीमत है – 150-160 रूपए

Uric Acid, 24 Hr. Urine Test की कीमत है – 150-200 रुपए

यूरिक एसिड से सम्बंधित सवाल-जवाब

  1. यूरिक एसिड कितना होना चाहिए?

    महिलाओं में यूरिक एसिड का नॉर्मल रेंज 2.4 – 6.0 mg/dl
    पुरुषों में यूरिक एसिड का नॉर्मल रेंज – 3.4 – 7.0 mg/dl
    यदि महिलाओं में यूरिक एसिड का स्तर 2.4 mg/dl से कम और पुरुषों में यह स्तर 3.4 mg/dl से कम है तो इसे हाइपोरिसीमिया (Hypouricemia) या यूरिक एसिड का निम्न स्तर कहा जाता है.

  2. यूरिक एसिड टेस्ट की कीमत क्या है?

    यूरिक एसिड टेस्ट दो प्रकार का होता है. एक ब्लड सैम्पल से और दूसरा यूरिन सैम्पल से
    Uric Acid, Serum Test की कीमत है – 150-160 रूपए
    Uric Acid, 24 Hr. Urine Test की कीमत है – 150-200 रूपए

  3. यूरिक एसिड कम होने के लक्षण क्या हैं?

    यूरिक एसिड का कम होना उतना ख़तरनाक नहीं माना जाता है जितना कि यूरिक एसिड के बढ़ने को माना जाता है. बहुत से लोगों में तो इसके लक्षणों का पता भी नहीं चल पाता है.
    लेकिन सामान्यतः यूरिक एसिड कम होने पर भविष्य में हाई ब्लड प्रेशर, शुगर आदि बीमारियां होने की संभावना रहती है.

  4. यूरिक एसिड क्यों बढ़ता है?

    यूरिक एसिड बढ़ने के कई कारण हैं. जैसे- अधिक प्यूरीन युक्त खाद्य पदार्थ लेना, अधिक मोटापा बढ़ना, व्यायाम न करना, मांसाहार, शराब और कोल्डड्रिंक का अत्यधिक मात्रा में सेवन करना और किडनी में ख़राबी होना आदि.

  5. क्या मोटापे से यूरिक एसिड बढ़ता है?

    जी हां, मोटापा कई सारी अन्य बीमारियों को भी बुलावा देता है. अधिक मोटे लोगों को दूसरे लोगों की अपेक्षा यूरिक एसिड बढ़ने की शिकायत अधिक होती है.
    मोटापे से आपके शरीर में कई हार्मोनल बदलाव भी आते हैं और इससे किडनी भी सही ढंग से कार्य नहीं कर पाती है. इस कारण शरीर में यूरिक एसिड की अधिकता हो जाती है.